गुरुवार, 25 जुलाई 2019

शिवना साहित्यिकी का वर्ष : 4, अंक : 14 त्रैमासिक : जुलाई-सितम्बर 2019 का वेब संस्करण

मित्रों, संरक्षक एवं सलाहकार संपादक, सुधा ओम ढींगरा Sudha Om Dhingra , प्रबंध संपादक नीरज गोस्वामी Neeraj Goswamy , संपादक पंकज सुबीर, कार्यकारी संपादक, शहरयार Shaharyar Amjed Khan , सह संपादक पारुल सिंह Parul Singh के संपादन में शिवना साहित्यिकी का वर्ष : 4, अंक : 14 त्रैमासिक : जुलाई-सितम्बर 2019 का वेब संस्करण अब उपलब्ध है। इस अंक में शामिल है-संपादकीय- शहरयार, व्यंग्य चित्र- काजल कुमार। काश पंडोरी न होती / सीमा शर्मा/ मृदुला श्रीवास्तव /, चुनी हुई कविताएँ / राधेलाल बिजधावन / राजेन्द्र नागदेव Rajendra Nagdev /, जिन्हें जुर्म-ए-इश्क़ पे नाज़ था / सुधा ओम ढींगरा / पंकज सुबीर /, देशी चश्मे से लंदन डायरी / डॉ. उषा किरण Usha Kiran / शिखा वार्ष्णेय Shikha Varshney , मैं बनूँगा गुलमोहर / डॉ. गरिमा संजय दुबे DrGarima Sanjay Dubey / सुशोभित सक्तावत Sushobhit , हमन हैं इश्क मस्ताना / डॉ. रमेश कुमार गोहे / विमलेश त्रिपाठी , दो ध्रुवों के बीच की आस / संतोष मोहंती ‘दीप’ / डॉ. गरिमा संजय दुबे DrGarima Sanjay Dubey , हसीनाबाद / डॉ. कमल किशोर गोयनका Kamal Kishore Goyanka / गीताश्री Geeta Shree, नक़्क़ाशीदार केबिनेट / मनीषा कुलश्रेष्ठ Manisha Kulshreshtha / सुधा ओम ढींगरा, वैश्विक संवेदन-संसार / डॉ. नीना मित्तल / डॉ. मधु संधु , खोई हुई परछाँई / देवी नागरानी Devi Nangrani / शौकत शौरो, वक़्त की गवाही / डॉ. विनय कुमार पाठक / बुधराम यादव Sameer Yadav , स्त्री और समुद्र / प्रो. बी. एल. आच्छा / राकेश शर्मा, 51 किताबें ग़ज़लों की / पारुल सिंह Parul Singh / नीरज गोस्वामी Neeraj Goswamy , इस समय तक / दीपक गिरकर Deepak Girkar / धर्मपाल महेन्द्र जैन Dharm Jain , जब आदिवासी गाता है / राजेन्द्र नागदेव Rajendra Nagdev / जमुना बीनी तादर, कथा सरित्सागर / निधि जैन / विष्णु प्रभाकर, हैशटैग मी-टू / पारुल सिंह / आकाश माथुर Ákáśh Máthúŕ , अभी तुम इश्क़ में हो / शिवकुमार अर्चन Shivkumar Archan / पंकज सुबीर, लेडीज़ सर्कल / पारुल सिंह / गीताश्री Geeta Shree , प्रवासी हिन्दी कहानी कोश / डॉ. सुनीता शर्मा/ डॉ. मधु संधु, कुबेर / दीपक गिरकर Deepak Girkar / डॉ. हंसा दीप Hansa Deep , यायावर हैं, आवारा हैं, बंजारे हैं / पारुल सिंह / पंकज सुबीर, कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न / शहरयार अमजद ख़ान / आकाश माथुर, सच कुछ और था / डॉ. अशोक प्रियदर्शी Ashok Priyadarshi / सुधा ओम ढींगरा, भट्ठी में पौधा / कमल चोपड़ा / सुरेश चन्द्र शर्मा, तंत्र कथा / अरुण अर्णव खरे Arun Arnaw Khare / कुमार सुरेश Kumar Suresh , उम्र जितना लम्बा प्यार / सुषमा मुनीन्द्र / सपना सिंह , कछु अकथ कहानी / दीपक गिरकर / कविता वर्मा Kavita Verma निर्भया / कान्ता राय / सुरेश सौरभ, चुनी हुई 51 व्यंग्य रचनाएँ / सूर्यकांत नागर / अश्विनी कुमार दुबे Ashwini Kumar Dubey , पेड़ लगाओ / शशि पुरवार Shashi Purwar / राज कुमार जैन राजन, द ट्रूथ बिहाइंड ऑन एयर / श्रद्धा श्रीवास्तव / पुष्पेन्द्र वैद्य Pushpendra Vaidya , साझा मन / दीपक गिरकर / वसुधा गाड़गिल , कौन देस को वासी... वेणु की डायरी / डॉ. प्रमोद त्रिवेदी / सूर्यबाला , पराई जमीन पर उगे पेड़ / संजीव वर्मा ‘सलिल’ / विनीता राहुरीकर Vinita Rahurikar , मिल्कियत की बागडोर / डॉ. नीलोत्पल रमेश / जयनंदन Jai Nandan , साँझ का सूरज / डॉ. अशोक प्रियदर्शी/ पद्मा मिश्रा, तुरपाई / सवाई सिंह शेखावत / ओम नागर Om Nagar , बारह चर्चित कहानियाँ / शहरयार अमजद ख़ान / सुधा ओम ढींगरा, पंकज सुबीर, यात्राओं का इन्द्रधनुष / प्रो. शोभा जैन / ज्योति जैन, शिगाफ़ / शशि बंसल / मनीषा कुलश्रेष्ठ, यादें / डॉ. मलय पानेरी / क़मर मेवाड़ी, चौपड़े की चुड़ैलें / अशोक अंजुम Ashok Anjum / पंकज सुबीर, झूठ बोले कौवा काटे / पंकज त्रिवेदी Pankaj Trivedi / बीनू भटनागर, तुमसे उजियारा है / सुनीता काम्बोज / ज्योत्स्ना शर्मा, देर आयद / दीपक गिरकर / दिलीप जैन, निःशब्द नहीं मैं / प्रो. बी. एल. आच्छा / नीरज सुधांशु Niraj Sharma, कई-कई बार होता है प्यार / डॉ. भावना / अशोक सिंह, उस दौर से इस दौर तक / प्रतीक श्री अनुराग / डॉ. मनोज मोक्षेंद्र Mokshendra Manoj , वार्ता का विवेक / प्रो. बी. एल. आच्छा / राकेश शर्मा। आवरण चित्र राजेंद्र शर्मा बब्बल गुरू, डिज़ायनिंग सनी गोस्वामी। आपकी प्रतिक्रियाओं का संपादक मंडल को इंतज़ार रहेगा। पत्रिका का प्रिंट संस्करण भी समय पर आपके हाथों में होगा।
ऑन लाइन पढ़ें-

ऑन लाइन पढ़ें-

https://www.slideshare.net/shivnaprakashan/shivna-sahityiki-july-september-2019

https://issuu.com/home/published/shivna_sahityiki_july_september_201_7b96780c705d8a

साफ़्ट कॉपी पीडीऍफ यहाँ से डाउनलोड करें

http://www.vibhom.com/shivnasahityiki.html

मंगलवार, 23 जुलाई 2019

वैश्विक हिन्दी चिंतन की अंतर्राष्ट्रीय पत्रिका "विभोम-स्वर" का वर्ष : 4, अंक : 14, त्रैमासिक : जुलाई-सितम्बर 2019 अंक

मित्रो, संरक्षक तथा प्रमुख संपादक सुधा ओम ढींगरा Sudha Om Dhingra एवं संपादक पंकज सुबीर के संपादन में वैश्विक हिन्दी चिंतन की अंतर्राष्ट्रीय पत्रिका "विभोम-स्वर" का वर्ष : 4, अंक : 14, त्रैमासिक : जुलाई-सितम्बर 2019 अंक का वेब संस्करण अब उपलब्ध है। इस अंक में शामिल है-
संपादकीय। मित्रनामा। साक्षात्कार- ज़किया ज़ुबैरी से सुधा ओम ढींगरा की बातचीत। कथा कहानी- कितना सहेगी आनंदिता - अरुण अर्णव खरे Arun Arnaw Khare , मधुर मुकेश को किसने मारा ? -रिम्पी खिल्लन सिंह , ‘और तुझे क्या चाहिए...औरत’ - उषा राजे सक्सेना Usha Raje Saxena , हथेलियों में क्षितिज- आभा सिंह, मी टू- ज़हीर कुरेशी , तबादला - विनीता परमार । लघुकथाएँ - बिट्टो-अंकिता भार्गव, आज का वोटर - रईस सिद्दीक़ी। व्यंग्य - धोखेबाज़ मौसम की जय हो!- प्रेम जनमेजय, ‘अथ गरीब चिंतन’ - हरीश नवल Harish Naval। शहरों की रूह- शिकागो की दुनिया - शुभ्रा ओझा Shubhra Ojha। संस्मरण - प्रदीप चौबे - कोई बतलाए कि हम बतलाएँ क्या - वीरेन्द्र जैन Virendra Jain । आलेख - विश्व साहित्य में नारी स्वर - उर्मिला कुमारी। हमारी धरोहर - मीठी नींद - मीठे सपने - शशि पाधा Shashi Padha । भाषांतर - मूल कथा : हारुकी मुराकामी - अनुवाद : सुशांत सुप्रिय Sushant Supriye , मूल कथा : रा. रं. बोराडे - अनुवाद - डॉ. सचिन गपाट Sachin Gapat । ग़ज़लें - सुभाष पाठक ‘ज़िया’ । कविताएँ - गौरव भारती Gaurav Bharti , पंकज कुमार साह , मालिनी गौतम, एम.जोशी हिमानी, शशांक पाण्डेय, उमेश चरपे, राधा गुप्ता, प्रतिभा सिंह। गीत- सूर्य प्रकाश मिश्र, ज्ञानेन्द्र मोहन ‘ज्ञान’। नव पल्लव- प्रशांत चक्रवर्तुला। समाचार सार - आचार्य निरंजननाथ सम्मान समारोह, जिन्हें जुर्म-ए-इश्क़ पे नाज़ था, कुल्लू व्यंग्य महोत्सव, व्यंग्य सत्र का आयोजन, देवीशंकर अवस्थी सम्मान, ‘कुबेर’ का लोकार्पण Dharm Jain Hansa Deep , ‘सृजन संवाद’ की गोष्ठी, जारी अपना सफ़र रहा, एक साँझ कविता की, सरयू से गंगा, ‘दो ध्रुवों के बीच की आस’ लोकार्पण DrGarima Sanjay Dubey , फोलसम नगरी में कवि सम्मेलन Abhinav Shukla । आख़िरी पन्ना। आवरण चित्र राजेंद्र शर्मा, रेखाचित्र - अनुभूति गुप्ता, डिज़ायनिंग सनी गोस्वामी Sunny Goswami , शहरयार अमजद ख़ान Shaharyar Amjed Khan , आपकी प्रतिक्रियाओं का संपादक मंडल को इंतज़ार रहेगा। पत्रिका का प्रिंट संस्क़रण भी समय पर आपके हाथों में होगा।

https://www.slideshare.net/vibhomswar/vibhom-swar-july-september-2019
https://issuu.com/home/published/vibhom_swar_july_september_2019
वेबसाइट से डाउनलोड करें
http://www.vibhom.com/vibhomswar.html
फेस बुक पर
https://www.facebook.com/Vibhomswar
ब्लाग पर
http://vibhomswar.blogspot.in/
कविता कोश पर पढ़ें
http://kavitakosh.org/kk/विभोम_स्वर_पत्रिका

शनिवार, 13 अप्रैल 2019

शिवना साहित्यिकी का वर्ष : 4, अंक : 13 त्रैमासिक : अप्रैल जून 2019 का वेब संस्करण

मित्रों, संरक्षक एवं सलाहकार संपादक, सुधा ओम ढींगरा Sudha Om Dhingra , प्रबंध संपादक नीरज गोस्वामी Neeraj Goswamy , संपादक पंकज सुबीर Pankaj Subeer , कार्यकारी संपादक, शहरयार Shaharyar Amjed Khann , सह संपादक पारुल सिंह Parul Singhh के संपादन में शिवना साहित्यिकी का वर्ष : 4, अंक : 13 त्रैमासिक : अप्रैल जून 2019 का वेब संस्करण अब उपलब्ध है। इस अंक में शामिल है-संपादकीय- शहरयार, व्यंग्य चित्र- काजल कुमार Kajal Kumarr । ‘साहित्य समागम’ पर विशेष सामग्री - संस्मरण आलेख- दिल्ली से भोपाल वाया सिहोर रिश्तों की पगडंडियों पर पदयात्रा- आलेख : डॉ. प्रेम जनमेजय, आज तक जो ना हुआ, अब ना होगा यार- आलेख : बुधराम यादव Sameer Yadav , यह साहित्यिक कुंभ स्मरणीय रहेगा- डॉ. कमल किशोर गोयनका Kamal Kishore Goyanka, हिन्दी लेखिका संघ ने किया सुधा ओम ढींगरा का सम्मान Anita Saxena , मुख़्तलिफ़ आवाज़ें....और एक भीनी याद.... - आलेख : वसंत सकरगाए , एक मीठा अनुभव जल तरंगों पर कविता का- आलेख : चौधरी मदन मोहन समर Madan Mohan Samar , हम भी वहीं मौजूद थे..... - आलेख : डॉ. आज़म Mohammed Azam , सीहोर कथा- आलेख : गीताश्री Geeta Shree , ‘अवाक्’ रह जाने का आनंद- आलेख : नीरज गोस्वामी Neeraj Goswamyy , रहा किनारे बैठ- आलेख : धर्मपाल महेंद्र जैन Dharm Jain , अपनापन भी रुला जाता है- मनीषा कुलश्रेष्ठ Manisha Kulshreshthaa , बिना गाँठ के बँधा हुआ रिश्ता- ज्योति जैन, हर लेखिका मल्लिका को जीती है- मनीषा कुलश्रेष्ठ Manisha Kulshreshtha से पारुल सिंह Parul Singh की बातचीत। कार्यक्रमों की रपट- बालिका सशक्तिकरण कार्यशाला आष्टा Sameer Thakur , बालिका सशक्तिकरण कार्यशाला सीहोर Sunny Goswami Sunil Suryavnshi , सम्मानित लेखकों के सम्मान में कार्यक्रम एवं रात्रि भोज Shailendra Patel , प्रथम उद्घाटन सत्र सम्मानित लेखकों का रचना पाठ एवं पुस्तक चर्चा Balram Gumasta Sameer Yadav DrGarima Sanjay Dubey Urmila ShirishMahesh Katare , द्वितीय सत्र ढींगरा फ़ैमिली फ़ाउण्डेशन एवं शिवना अंतर्राष्ट्रीय सम्मान समारोह Palash Surjan Santosh Choubey , तृतीय सत्र शिवना प्रकाशन पुस्तक विमोचन समारोह Hansa Deep Ákáśh Máthúŕ Prasanna Soni , चतुर्थ सत्र कविता की एक शाम लहरों के नाम Shashikant Yadav Yadav Yadav Raghuvir Sharma Shailendra Sharan Budr Wasti Wasti Wasti Archana Nayudu Mohammed Azam Madan Mohan Samar , अंतर्राष्ट्रीय शोध-संगोष्ठी।
आवरण चित्र राजेंद्र शर्मा बब्बल गुरू Babbal Guru , डिज़ायनिंग सनी गोस्वामी Sunny Goswami Shivam Goswamii । आपकी प्रतिक्रियाओं का संपादक मंडल को इंतज़ार रहेगा। पत्रिका का प्रिंट संस्करण भी समय पर आपके हाथों में होगा।
ऑन लाइन पढ़ें-
https://www.slideshare.net/shivnaprakashan/shivna-sahityiki-april-june-2019

https://issuu.com/home/published/shivna_sahityiki_april_june_2019

साफ़्ट कॉपी डाउनलोड करें

http://www.vibhom.com/shivnasahityiki.html

बुधवार, 10 अप्रैल 2019

"विभोम-स्वर" का वर्ष : 4, अंक : 13, त्रैमासिक : अप्रैल-जून 2019 अंक का वेब संस्करण

मित्रो, संरक्षक तथा प्रमुख संपादक सुधा ओम ढींगरा एवं संपादक पंकज सुबीर के संपादन में वैश्विक हिन्दी चिंतन की अंतर्राष्ट्रीय पत्रिका "विभोम-स्वर" का वर्ष : 4, अंक : 13, त्रैमासिक : अप्रैल-जून 2019 अंक का वेब संस्करण अब उपलब्ध है। इस अंक में शामिल है- संपादकीय, मित्रनामा, साक्षात्कार- रामदेव धुरंधर Ramdeo Dhoorundhur से सुधा ओम ढींगरा Sudha Om Dhingra की बातचीत। कथा कहानी- मेरी तीन कसमें ..., हर्ष बाला शर्मा Harshbala Sharma , हरा पत्ता पीला पत्ता, डॉ. हंसा दीप Hansa Deep , शेरा और मैं, उमेश अग्निहोत्री Umesh Agnihotri , शीशों में बंद ज़िंदगी, मंजुश्री Manju Saksena , आप क्यू में हैं....., चौधरी मदन मोहन समर Madan Mohan Samar , ....कि तुम मेरी ज़िंदगी हो, डॉ. पूरन सिंह Puran Singh । लघुकथाएँ - गिरगिट, सुमन कुमार @suman kumar , रसायन, डॉ. विनोद नायक @vinod nayak , व्हेन करैक्टर इज लॉस्ट- सुभाष चंद्र लखेड़ा Subhash Chandra Lakheraa । व्यंग्य- भैंस उसी की - लाठी जिसकी, पूरन सरमा @puran sarma , पुस्तक-महाकुम्भ पर नारदीय रपट, कमलेश पाण्डेय Kamlesh Pandey । शहरों की रूह- एक सुनियोजित व सुरक्षित शहर - कोपनहेगन, अर्चना पैन्यूली Archana Painuly । संस्मरण- तुम्हारा शिष्य, हमारे पाले में आ गया है!, ज़हीर कुरेशी @zaheer qureshi। आलेख- दो बहनों की कथा, (एक पत्रिका के दो नाम : शमा-सुषमा), डॉ. अफ़रोज़ ताज Afroz Tajj । ग़ज़लें- हमीद कानपुरी @hamid kanuri , जय चक्रवर्ती Jai Chakrawartii । कविताएँ- डॉ.अमरेंद्र मिश्र Amrendra Mishra , पंकज त्रिवेदी Pankaj Trivedi , शैलेन्द्र शरण Shailendra Sharann , राजेन्द्र नागदेव Rajendra Nagdev , डॉ. संगम वर्मा डॉ. संगम वर्मा , शिव कुशवाहा @shiv kushwaha , नंदा पाण्डेय Nanda Pandeyy , सलिल सरोज @salil saroj , नीलम पांडेय नील @nilam pandey । गीत- संदीप ‘सरस’ @sandip saras । भाषांतर- अतिया दाऊद , अनुवाद : देवी नागरानी Devi Nangranii । नव पल्लव- अदिति मजूमदार Aditi Majumdarr । समाचार सार- स्पंदन सम्मान समारोह Urmila Shirish , सुबह अब होती है, अब होती है मंचित Neeraj Goswamy , काव्यसंग्रहों का विमोचन Nusrat Mehdi , ओटावा में विश्व हिंदी दिवस Dharm Jain , पावस व्याख्यान माला, ‘सृजन संवाद’, एक शाम अशोक मिज़ाज बद्र के नाम Ashok Mizaj Badr , वैश्विक हिंदी सेवा सम्मान Jawahar Karnavatt , पुरोधा संपादकों की कहानी, ‘यह भी खूब रही’ का विमोचन Swati Tiwarii , ‘‘पत्रकारिता कोश’’, महाराजा सयाजीराव लोक भाषा सम्मान, ‘मन्नत टेलर्स’ का लोकार्पण Pragya Rohinii , ‘‘लेखकों की दुनिया’’, ‘कमलेश्वर स्मृति कथा पुरस्कार, विश्व हिंदी दिवस समारोह, आख़िरी पन्ना। आवरण चित्र राजेंद्र शर्मा Babbal Guru , डिज़ायनिंग सनी गोस्वामी Sunny Goswami , शहरयार अमजद ख़ान Shaharyar Amjed Khan , आपकी प्रतिक्रियाओं का संपादक मंडल को इंतज़ार रहेगा। पत्रिका का प्रिंट संस्क़रण भी समय पर आपके हाथों में होगा।
https://www.slideshare.net/vibhomswar/vibhom-swar-april-june-2019

https://issuu.com/vibhomswar/docs/vibhom_swar_april_june_2019
वेबसाइट से डाउनलोड करें
http://www.vibhom.com/vibhomswar.html
फेस बुक पर
https://www.facebook.com/Vibhomswar
ब्लाग पर
http://vibhomswar.blogspot.in/
कविता कोश पर पढ़ें
http://kavitakosh.org/kk/विभोम_स्वर_पत्रिका